अनुच्छेद 370 तो हट गया, मगर कश्मीर घाटी में तैनात जवानों की सख्त ड्यूटी अभी तक चल रही है। करवा चौथ पर इन जवानों की पत्नियों ने अपने पतियों की लंबी आयु और उनके स्वस्थ रहने के लिए व्रत भी किया होगा। उनके पति देश की हिफाजत के लिए बॉर्डर पर हैं, नक्सलियों से लड़ रहे हैं, आतंकियों को मुंह तोड़ जवाब दे रहे हैं। कहीं पर वे बर्फीले पहाड़ों और तूफानों से जूझते हैं, तो कहीं नदी नालों को चीरते हुए गश्त करते हैं।खासतौर पर, कश्मीर में तैनात जवानों की पत्नियां करवा चौथ वाले दिन वीडियो कॉल के जरिए अपने 'चांद' का दीदार नहीं कर सकेंगी। वजह, कश्मीर में इंटरनेट बंद है।