कोलकाता। कोलकाता के कोलंबिया एशिया अस्पताल में कथित तौर पर मरीज को दूसरे ग्रुप का खून चढ़ा देने के मामले में मरीज के पति ने हॉस्पिटल के खिलाफ लापरवाही का केस दर्ज कराया है। पीड़ित मरीज बैशाखी साहा के पति अभिजीत ने बिधाननगर पुलिस स्टेशन में मामला दर्ज कराया है। पीड़िता के पति ने इस मामले में पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से दखल देने की मांग करते हुए चिट्ठी लिखकर अस्पताल के खिलाफ एक्शन लेने की मांग की है।

5 जून को बैशाखी साहा नाम की 31 वर्षीय महिला सर्जरी के लिए कोलंबिया एशिया अस्पताल में भर्ती हुई थी। साहा के डॉक्टर की लापरवाही की वजह से मरीज को अन्य ग्रुप का ब्लड चढ़ा दिया गया। जिसके बाद से न केवल पीड़िता की हालत गंभीर है बल्कि उसके शरीर के कई अन्य हिस्सों ने भी काम करना बंद कर दिया है। साहा 5 जून से ही कोलंबिया एशिया अस्पताल में वेंटिलेशन पर है।

बैशाखी के पति का कहना है कि पेट में दर्द के बाद वो उसे यहां लाए थे, अस्पताल ने सर्जरी की बात कही और उसका ऑपरेशन किया गया। बैशाखी का ब्लड ग्रुप A है लेकिन उसके शरीर में AB ग्रुप का खून चढ़ा दिया गया, जिससे बैशाखी की हालत बिगड़ गई।

मरीज के पति अभिजीत शाह का कहना है कि अस्पताल की लापरवाही की वजह से उनकी पत्नी के फेफड़े और किडनी को बहुत नुकसान पहुंचा है लेकिन अस्पताल अपनी गलती मानने को तैयार नहीं है। अभिजीत का कहना है कि उनसे ढाई लाख रुपए पहले ही ले चुका है और अब भी अस्पताल प्रशासन धमकी दे रहा है किबिल नहीं भरा तो इलाज रोक दिया जाएगा।