लखनऊ। हिंदू समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष कमलेश तिवारी हत्याकांड में लगातार नए खुलासे हो रहे है। रविवार को पुलिस लखनऊ स्थित नाका इलाके में स्थित एक होटल की सीसीटीवी कैमरे की फुटेज चैक की। पुलिस की मानें तो सीसीटीवी कैमरे में आरोपियों की तस्वीर सामने आई है। पुलिस के मुताबिक आरोपियों ने 17 अक्टूबर की रात 11 बजकर 8 मिनट पर होटल में चेक इन किया था। वहीं 18 अक्टूबर की सुबह 11 बजकर 38 मिनट पर दोनों आरोपी भगवा कपड़े पहने घटना को अंजाम देने के लिए होटल से निकले थे।
जांच में जुटी पुलिस टीम को सूचना मिली कि लखनऊ के पश्चिम क्षेत्र अंतर्गत होटल खालसा इन के कमरे में कुछ भगवा कपड़े और बैग पड़ा है। इस सूचना पर लखनऊ पुलिस मौके पर पहुंची और मौके पर फील्ड यूनिट को बुलाकर विभिन्न सबूत जमा किए गए। उच्च अधिकारियों द्वारा भी मौका मुआयना किया गया है। जांच में सामने आया है कि लखनऊ के होटल खालसा में संदिग्ध शेख अशफाक और पठान मोइनुद्दीन अहमद के नाम की आईडी से बुक किए गए थे। ये दोनों होटल के कमरा नम्बर G 103 में रुके थे। 17 अक्तूबर की रात 11:08 मिनट पर होटल आए। 18 अक्तूबर को सुबह 10:38 पर चले गए। इसके बाद फिर एक बजकर 21 मिनट पर वापस आए। एक बजकर 37 मिनट पर फिर से वापस चले गए।
पुलिस की 10 टीमें सक्रिय !
कमलेश तिवारी मर्डर केस को खुलासा करने के लिए पुलिस की 10 टीमें लगाई गई है। गुजरात भेजी गई टीम को लखनऊ के एसपी क्राइम लीड कर रहे हैं। यूपी पुलिस और गुजरात एटीएस गुजरात के हवाई अड्डों से दिल्ली और लखनऊ की फ्लाइट के यात्रियों के बारे में भी पूछताछ की है।