रविवार शाम जवाहर लाल यूनिवर्सिटी ( जेएनयू ) में हुई हिंसा मामलें में एक वामपंथी गुंडे की चालाकी पकड़ी गयी है। बता दें की वामपंथी छात्र संगठन SFI का छात्रनेता सूरी सहानुभूति जताने के लिए दिल्ली में अपाहिज बन गया था, सर में फर्जी पट्टी बाँध ली थी, हाथ में प्लास्टर बाँध लिया था। यहाँ तक की व्हीलचेयर पर बैठकर अपने पसंदीदा हॉस्पिटल में गया और वहीँ अपाहिज बनने का नाटक किया। लेकिन इस वामपंथी गुंडे की पोल खुल गयी।दरअसल यह वामपंथी गुंडा दिल्ली में पहले अपाहिज बनकर फोटो खिंचवाया उसके 24 घंटे बाद केरल के त्रिवेंद्रम पहुंचा वहां ठीक हो गया और अपाहिज से उठ खड़ा हुआ, पट्टी उतार कर फेंक दिया, फूल-मालाओं से स्वागत करवाया। इस तरह से इस वामपंथी गुंडे की पोल खुल गयी।